लाॅकडाउन के कारण मजदूर भुखमरी के कगार पर, #CovidHelpCentre का राहत अभियान जारी


विगत 25 दिनों से भाकपा-माले, आइसा, आरवाइए व कोरस द्वारा संचालित कोविड हेल्प सेंटर ने आज भी पटना शहर के गरीबों, मजदूरों, रिक्शा चालकों, निर्माण मजदूरों आदि तबके के बीच राहत अभियान चलाकर यथासंभव जरूरतमंदों की मदद पहुंचाने का काम किया. कोविड हेल्प सेंटर को कई सामाजिक कार्यकर्ताओं व नागरिक समुदाय का हर तरह से लगातार समर्थन मिल रहा है.
कोविड हेल्प सेंटर ने आज चिरैयाटांड़, स्टेशन परिसर,कंकड़बाग, हार्डिंग पार्क पटना काॅलेज, पीएमसीएच और आसपास के कई इलाकों में चूड़ा-गुट का पैकेट वितरित किया. वहीं, पटना सिटी के चैलीटांड़, पैजावा मुसहरी व महादेव स्थान बिन्टोली में आज 135 परिवारों के बीच घर-घर जाकर राशन पैकेट का वितरण किया.

माले के पटना नगर सचिव अभ्युदय ने बताया कि लाॅकडाउन की वजह से दैनिक मजदूरी करने वाले तबके के सामने भुखमरी की नौबत आ गई है. उनका रोजी-रोजगार पूरी तरह बंद है. सरकार की ओर से उन्हें किसी भी प्रकार का राहत नहीं पहंुच रहा है. लेकिन हमारे सेंटर के कार्यकर्ता उनकी सेवा में जी जान से जुटे हुए हैं.


राशन वितरण सामग्री में अभ्युदय, सामाजिक कार्यकर्ता गालिब मुसाफिर, राज्य कमिटी की सदस्य समता राय, माले नेता अनय मेहता, मुनारिक साव, समीर; आरवाइए नेता विनय कुमार तथा आइसा नेता कुमार दिव्यम, अनंत शाश्वत, नीरज यादव, मासूम जावेद, रामजी यादव, अवनीश कुमार आदि शामिल थे.

और पढ़ें

ऊपर जायें