भाकपा माले का भाजपा भागाओ-लोकतंत्र बचाओ जन अधिकार यात्रा शुरू

आरा- भोजपुर भाकपा माले कमिटी के आह्वान पर आज से आरा लोकसभा के चार विधानसभा क्षेत्रों में भाजपा भागाओ-लोकतंत्र बचाओ जन अधिकार यात्रा रथ रवाना.

तरारी विधानसभा क्षेत्र में भाजपा भागाओ-लोकतंत्र बचाओ जन अधिकार यात्रा रथ का नेतृत्व इलाके के लोकप्रिय किसान नेता कामता प्रसाद ,माले नेता रामकिशोर राय ,दूधनाथ पासवान कर रहे है. इस रथ को भाकपा माले के तरारी के सचिव रमेश सिंह ने झंडा दिखाकर रवाना किया. अगियांव विधानसभा क्षेत्र स्तरीय भाजपा भागाओ-लोकतंत्र बचाओ जन अधिकार यात्रा रथ का नेतृत्व भाकपा माले नेता व इलाके के किसान नेता विमल यादव,अवधेश पासवान, विष्णुमोहन, जनकवि निर्मोही जी कर रहे है. इस रथ को भाकपा माले के केन्द्रीय कमिटी सदस्य व भोजपुर जिला सचिव जवाहर लाल सिंह व भाकपा माले के अगियांव प्रखंड सचिव रघुवर ने संयुक्त रूप से लाल झन्डा दिखा रवाना किया.

सन्देश विधानसभा क्षेत्र में रथ का नेतृत्व भाकपा माले के केन्द्रीय कमिटी सदस्य राजू यादव , स्थानीय नेता जीतन चौधरी,तथा धर्मेन्द्र सिंह कर रहे है. इस रथ को सन्देश प्रखंड के सचिव पशुराम सिंह ने झन्डा दिखा रवाना किया. जगदीशपुर विधानसभा क्षेत्र में रथ का नेतृत्व भाकपा माले नेता पूर्व विधायक चन्द्रदीप सिंह , भाकपा माले के युवा नेता अजीत कुशवाहा, ऐपवा नेता इंदु सिंह ,किसान नेता विनोद कुशवाहा तथा श्री भगवान राम संयुक्त रूप से कर रहे है. इस रथ को प्रखंड सचिव विजय ने झंडा दिखाकर रवाना किया.

भाजपा भागाओ-लोकतंत्र बचाओ जन अधिकार यात्रा रथ भोजपुर के चारो विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न गांवों व चौक चौराहों, चट्टी बाजारों पर दर्जनों सभा अयोजीय किया गया. इस दौरान भाकपा माले के वक्ताओं ने सभा संबोधित करते हुए कहां कि मोदी सरकार के खिलाफ देश की जनता सड़को पर है. पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में भाजपा की पराजय के पीछे देश के मजदूर-किसानों, छात्र- नौज़वानों की बढ़ी भूमिका है. मोदी सरकार के अंतरिम बजट में जनता को भीड़ से भ्रम में डालने की कोशिस की है सरकार कर्ज माफ़ी और फसल की लागत की दोगुना दाम पर सरकार अभी चुप है लेकिन किसानों को भरमाने के लिए पांच एकड़ जमीन तक मालिकों के लिए पांच सौ रूपये प्रतिमाह अनुदान की घोषणा की है.

यदि परिवार में पांच सदस्य है तो एक सदस्य पर एक दिन में तीन रूपये 30 पैसा पड़ता है जिसमें एक कप चाय भी नहीं मिल सकता है. यह किसानों के साथ मजाक है, संविधान की बुनियादी अवधारणाओं के खिलाफ जाकर आर्थिक आधार पर आरक्षण लाया जा रहा है तो दूसरी और एससी/एसटी/ओबीसी आरक्षण को लगातार खत्म करने का प्रयास चलाया जा रहा है.

वर्तमान समय में बिहार में लगातार अपराध का ग्राफ बढ़ रहा है इसको रोक लगाने में बिहार की सरकार विफल साबित हुई है. जहाँ तक आरा लोकसभा क्षेत्र का सवाल है यहाँ की जनता को वर्तमान सांसद ने केवल धोका देने का ही काम किया है. गरीबों के टोले आज भी विकास की बांट जोह रहे है. आरा लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र सामाजिक बदलाव की धरती है . इसलिए भोजपुर की धरती को नफरत व उन्माद -उत्पाद फ़ैलाने वाली ताकतों से मुक्त करना होगा और लाल झंडा की दावेदारी को मजबूत करना होगा |

इस लिए भाकपा माले ने इस धरती से भाजपा को खदेड़ कर संविधान व लोकतंत्र की रक्षा के लिए 10 से 16 फरवरी तक जिले में जन अधिकार यात्रा रथ निकला गया है .

और पढ़ें

ऊपर जायें
%d bloggers like this: