बाढ़ प्रभावित इलाकों में माले का चक्का जाम असरदार. दरभंगा में 500 प्रदर्शनकारी गिरफ्तार.

पटना 9 सितम्बर 2017.

भाकपा-माले के राज्य सचिव कुणाल और अखिल भारतीय खेत व ग्रामीण मजदूर सभा के राष्ट्रीय महासचिव कामरेड धीरेन्द्र झा ने संयुक्त प्रेस बयान जारी करके कहा है कि बाढ़ पीड़ितों के प्रति सरकार की घोर संवेदनहीनता व आपराधिक लापरवाही के खिलाफ आज बाढ़ प्रभावित इलाकों में चक्का जाम आंदोलन असरदार साबित हुआ है. लोगों ने अपने आक्रोश का खुलकर इजहार किया है.

उन्होंने कहा कि इस्ट वेस्ट कोरिडोर एनएच 57 को बाढ़ पीड़ितों ने कई स्थानों पर पूरी तरह ठप्प कर दिया. मुज्ज़फरपुर के बोचहां, सिकटी, मब्बी, मुरिया, अररिया, पूर्णिया आदि जगहों पर एचएच 57 को माले कार्यकर्ताओं ने घंटो जाम रखा. सहरसा-फारबिसगंज एनएच को भी जाम किया गया. सहरसा, मधेपुरा और त्रिवेणीगंज में हाइवे व स्टेट सड़कों पर परचिालन ठप्प रहा. दरभंगा-समस्तीपुर एसएच को बिसनपुर व समस्तीपुर के जटमल में जाम किया गया. दरभंगा जिले में लगभग 10 स्थानों पर सड़क जाम कर यातायात पूरी तरह ठप्प कर दिया गया. पूर्णिया में प्रदर्षनकारियों ने आरएन साह चौक को जाम कर दिया. पश्चिम चंपारण और गोपालगंज में भी कई स्थान पर सड़क जाम हुए.

माले नेताओं ने कहा कि पिछले एक महीने से संपूर्ण उत्तर बिहार में प्रलयंकारी बाढ़ की बर्बादी-तबाही मची हुई है. सैकड़ो लोगों की अकाल मौत हो चुकी है. हजारो पशुधन मारे गये हैं. गरीबों का सारा अनाज बर्बाद हो गया है. झोपड़िया दह-बह गयी हैं तथा अब गांव-गांव में भूखमरी है. चूल्हे नहीं जल रहे व चारा के अभाव में मवेशियों की लगातार मौत हो रही है. लेकिन सरकार अभी तक जरूरतमंदों के पास फूड पैकेट तक नहीं पहुंचा पा रही है. जो भी राहत सामग्री पहुंच रही है, उसे बिचौलिए बीच में ही गायब कर दे रहे हैं. जमीन पर सरकार नाम की कोई भी चीज नहीं दिख रही है.

उन्होंने कहा कि आज के चक्का जाम के दौरान बाढ़ की विनाशलीला को देखते हुए तमाम बाढ़ पीड़ितों को 3 माह का राशन व 15 हजार रु. तत्काल उपलब्ध कराने की मांग की गयी. गरीबों को काम नहीं मिल रहा है. हमारी मांग है कि गरीबों-मजदूरों को मनरेगा की 3 महीने की अग्रिम मजदूरी दी जाए. मृतक के परिजनों को 10 लाख रु. मुआवजा दिया जाए. हम बटाईदार किसानों सहित सभी किसानों के लिए 15 हजार रु. प्रति एकड़ की दर से फसल मुआवजे की भी मांग करते हैं. पशुधन क्षति का भी उपयुक्त मुआवजा और चारे की मुकम्मल व्यवस्था का ठोस इंतजाम भी किया जाए. बाढ़ का स्थायी समाधान निकाला जाए. उत्तर-पूर्व के सभी गरीबों को पक्का मकान उपलब्ध कराया जाए. बटाईदारों समेत सभी किसानों को फसल क्षति का मुआवजा व वोटर लिस्ट के आधार पर बाढ़ पीड़ितों की लिस्ट बनाने की मांग की गयी.

दरभंगा में चक्का जाम का व्यापक असर :

आज के चक्का जाम का दरभंगा में खासा असर रहा. जिले के सिंहवाड़ा प्रखंड के सिमरी चौक पर माले के प्रखण्ड सचिव सुरेन्द्र पासवान, देवेन्द्र चैधरी, नंदकिशोर राम के नेतृत्व में सड़क जाम किया गया. एनएच 57 को मब्बी चौक पर भाकपा (माले) राज्य कमिटी सदस्य सह प्रखंड सचिव अभिषेक कुमार, रोहित सिंह, अमित पासवान, पप्पू पासवान, कोमल यादव, केशरी यादव, शिवन यादव के नेतृत्व में सैकड़ो बाढ़ पीड़ितों ने 3 घंटा तक जाम रखा. लगभग 500 लोगो की गिरफ्तारी भी हुई. सदर डीएसपी, एसडीओ से वार्ता के उपरांत यात्रियों की असुविधा को देखते हुए जाम को हटाया गया. वहीं, हनुमाननगर प्रखंड के बिसनपुर चौक पर माले नेता सुनील यादव, पप्पू पासवान के नेतृत्व में बाढ़ पीड़ितों ने सड़क जाम किया. सदर प्रखंड के गंगवारा के सारा मोहनपुर चौक पर प्रखंड सचिव अशोक पासवान, सनीचरी देवी, मधु सिन्हा, सुरेश यादव के नेतृत्व में 1 घंटा सड़क जाम किया. बेनीपुर पथ के धोई चौक पर बाढ़ पीड़ितों ने 3 घंटा तक सड़क जाम. सदर बीडीओ, सीओ के साथ वार्ता के बाद जाम को खत्म किया गया. जाम का नेतृत्व माले नेता जंगी यादव, प्रिंस कुमार कर्ण, राजीव गिरी कर रहे थे. देकुली चट्टी चौक पर सैकड़ो बाढ़ पीड़ितों ने माले के झंडा बैनर के साथ सरकार द्वारा राहत नहीं देने का आरोप लगाते हुए रोड जाम कर दिया. रोड जाम का नेतृत्व माले नेता प्रवीण यादव, शिवशंकर लाल देव, धर्मेन्द्र लाल देव ने किया. बेनीपुर के धरौरा चौक पर प्रखंड सचिव राजेंद्र दास के नेतृत्व में बाढ़ पीड़ितों ने रोड जाम किया. अलीनगर प्रखंड के अलीनगर चौक पर प्रखंड सचिव अवधेश सिंह, संजीवन मुखिया के नेतृत्व में जाम किया गया. बिरौल थाना के सामने हजारो बाढ़ पीड़ितों ने अशर्फी दास, मनोज यादव, बैद्यनाथ यादव, विसंभर पासवान, पाओ देवी के नेतृत्व में रोड जाम कर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की. घनश्यामपुर थाना चैक पर सैकड़ो बाढ़ पीड़ितों ने मो. जमालुद्दीन, सागर सिंह, विकाश शर्मा, बुधन मुखिया के नेतृत्व में सड़क जाम कर बाढ़ राहत की मांग किया. मनीगाछी प्रखंड के सामने बाढ़ पीड़ितों ने प्रखंड सचिव भारत ठाकुर के नेतृत्व में रोड जाम किया.

पश्चिम चम्पारण जिला में बाढ़ पीड़ितों ने बगहा में पशुराम यादव, भिखारी प्रसाद के नेतृत्व में; नरकटियागंज में मोख्तार मियां, नजरे आलम; पिपरा में लालजी यादव; मैनाटांड़ में सीता राम व इंद्रदेव कुशवाहा; चनपटिया अंचल के घोघा चैक पर राज्य कमिटी सदस्य सुनील यादव; बेतिया मोतिहारी एन एच को घण्टो माले नेता सजंय राम के नेतृत्व में चक्का जाम किया गया.

और पढ़ें

ऊपर जायें
%d bloggers like this: